Aarti

hanuman ji aarti
Aarti

आरती हनुमान जी की (Hanuman ji Aarti)

Hanuman ji aarti – हनुमान जी आरती आरती कीजै हनुमान लला की ।दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥ जाके बल से गिरवर काँपेरोग-दोष जाके निकट न झाँके |अंजनि पुत्र महा बलदाईसंतन के प्रभु सदा सहाई ॥ ( आरती…. ) दे वीरा रघुनाथ पठाए लंका जारि सिया सुधि लाये |लंका सो कोट समुद्र सी खाई जात […]

ganesh-ji
Aarti

Ganesh Aarti ( गणेश आरती )

जय गणेश जय गणेश,जय गणेश देवा । माता जाकी पार्वती,पिता महादेवा ॥ एक दंत दयावंत,चार भुजा धारी । माथे सिंदूर सोहे,मूसे की सवारी ॥ (जय गणेश ) पान चढ़े फल चढ़े,और चढ़े मेवा । लड्डुअन का भोग लगे,संत करें सेवा ॥ ( जय गणेश ) अंधन को आंख देत,कोढ़िन को काया । बांझन को पुत्र देत,निर्धन

Scroll to Top