Home Aarti Khatu shyam ji aarati ( खाटू श्याम जी आरती)

Khatu shyam ji aarati ( खाटू श्याम जी आरती)

khatu shyam ji ki aarti

Khatu shyam ji aarati (आरती खाटू श्याम जी की)

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे।
खाटू धाम विराजत, अनुपम रूप धरे।।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

रतन जड़ित सिंहासन, सिर पर चन्दर ढुरे।
तन केसरिया बागो, कुंडल श्रवण पड़े।।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

गल पुष्पों की माला, सिर पर मुकुट धरे।
खेवत धूप अग्नि पर दीपक ज्योति जले।।
ॐ जय श्री श्याम हरे…..

मोदक खीर चूरमा, सुवरण थाल भरे।
सेवक भोग लगावत, सेवा नित्य करे।।
ॐ जय श्री श्याम हरे….

मोदक खीर चूरमा, सुवरण थाल भरे।
सेवक भोग लगावत, सेवा नित्य करे।।
ॐ जय श्री श्याम हरे…..

झांज कटोरा और घडियावल, शंख मृदंग घुरे।
भक्त आरती गावे, जय-जयकार करे।।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

जो ध्यावे फल पावे, सब दुःख से उबरे।
सेवक जन निज मुख से, श्री श्याम-श्याम उचरे।।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

श्री श्याम बिहारी जी की आरती, जो कोई नर गावे।
कहत भक्तजन, मनवांछित फल पावे।।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

जय श्री श्याम हरे, बाबा जी श्री श्याम हरे।
निज भक्तों के तुमने, पूरण काज करे।
ॐ जय श्री श्याम हरे.. ।

खाटू श्याम जी का मंदिर राजस्थान राज्य में सीकर जिले में स्थित है। खाटू श्याम जी महाभारत के बर्बरीक( बर्बरीक भीम के पौत्र हैं) हैं जिन्होंने धर्म के लिए अपना शीश बलिदान दे दिया था इसलिए इन्हे शीश दानी भी कहा जाता हैं। महाभारत के समय बर्बरीक को श्री कृष्ण भगवान् ने कहा था की जब कलियुग आएगा और धर्म का नाश होने लगेगा तब तुम्हारी पूजा करके भक्त अपनी मनोकामनाएं पूरी कर पाएंगे। इसलिए सभी लोग कहते हैं

हारे का सहारा बाबा श्याम हमारा।

हमें प्रतिदिन खाटूश्याम जी की पूजा और आरती करनी चाहिए। खाटू श्याम जी हमें मनवांछित फल प्रदान करेंगे। यदि संभव हो सके तो वर्ष में एक बार या जैसी आपकी श्रद्धा हो सीकर में जाकर बाबा खाटूश्याम के दर्शन अवश्य करें ।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here