Tuesday

hanuman ji
Mantra

हनुमान जी के 108 नाम – hanuman ji ke 108 naam

हनुमान जी के 108 नाम ॐ आञ्जनेयाय नमः । ॐ महावीराय नमः । ॐ हनूमते नमः । ॐ मारुतात्मजाय नमः । ॐ तत्वज्ञानप्रदाय नमः । 5 ॐ सीतादेविमुद्राप्रदायकाय नमः । ॐ भीमसेन सहायकृथे नमः । ॐ सर्वदुखः हराय नमः । ॐ सर्वबन्धविमोक्त्रे नमः । ॐ रक्षोविध्वंसकारकाय नमः । 10 ॐ परविद्या परिहाराय नमः । ॐ परशौर्य […]

Hanuman chalisa
Chalisa

Hanuman Chalisa (हनुमान चालीसा और उसका महत्व )

Hanuman chalisa – हनुमान चालीसा दोहा : श्रीगुरु चरन सरोज रज, निज मनु मुकुरु सुधारि। बरनऊं रघुबर बिमल जसु, जो दायकु फल चारि।। बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौं पवन-कुमार। बल बुद्धि बिद्या देहु मोहिं, हरहु कलेस बिकार।। चौपाई जय हनुमान ज्ञान गुन सागर।जय कपीस तिहुं लोक उजागर।। रामदूत अतुलित बल धामा।अंजनि-पुत्र पवनसुत नामा।। महाबीर बिक्रम बजरंगी।कुमति निवार सुमति के संगी।। कंचन

hanuman ji
Chalisa

Bajrang Ban – बजरंग बाण

दोहा : निश्चय प्रेम प्रतीति ते, बिनय करैं सनमान।तेहि के कारज सकल शुभ, सिद्ध करैं हनुमान॥ चौपाई : जय हनुमंत संत हितकारी।सुन लीजै प्रभु अरज हमारी॥जन के काज बिलंब न कीजै।आतुर दौरि महा सुख दीजै॥जैसे कूदि सिंधु महिपारा।सुरसा बदन पैठि बिस्तारा॥आगे जाय लंकिनी रोका।मारेहु लात गई सुरलोका॥जाय बिभीषन को सुख दीन्हा।सीता निरखि परमपद लीन्हा॥बाग उजारि सिंधु

hanuman ji aarti
Aarti

आरती हनुमान जी की (Hanuman ji Aarti)

Hanuman ji aarti – हनुमान जी आरती आरती कीजै हनुमान लला की ।दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥ जाके बल से गिरवर काँपेरोग-दोष जाके निकट न झाँके |अंजनि पुत्र महा बलदाईसंतन के प्रभु सदा सहाई ॥ ( आरती…. ) दे वीरा रघुनाथ पठाए लंका जारि सिया सुधि लाये |लंका सो कोट समुद्र सी खाई जात

Scroll to Top