Khatu shyam ji bhajan- बाबा का दरबार सुहाना लगता है

Khatu shyam ji bhajan – खाटू श्याम जी भजन

बाबा का दरबार सुहाना लगता है,
भक्तों का तो दिल दीवाना लगता है ||1||

हमने तो बड़े प्यार से कुटिया बनायीं है,
कुटिया में बाबा तेरी मूरत सजाई है ||
अच्छा हमें तुमको सजाना लगता है,
भक्तों का तो दिल दीवाना लगता है ||2||

रंग बिरंगे फूलो की लड़िया लगे प्यारी,
बालाजी तेरी सूरत हमे लागे बड़ी न्यारी |
अच्छा हमें तुझको मनाना लगता है,
भक्तों का तो दिल दीवाना लगता है ||3||

हम तेरी राहों को पलकों से बुहारेंगे,
तुम ना आओगे तो बाबा तुम्हें पुकारेंगे |
अच्छा हमें तुझको बुलाना लगता है,
भक्तों का तो दिल दीवाना लगता है ||4||

हम तेरी चोखट पे बाबा बिछ बिछ जायेंगे,
कहते है भक्त तेरी महिमा गाएँगे ||
अच्छा हमे रिश्ता निभाना लगता है,
भक्तों का तो दिल दीवाना लगता है ||5||

बाबा का दरबार सुहाना लगता है,
भक्तों का तो दिल दीवाना लगता है ||6||

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here